गोह के अकौना गांव में पुलिसिया कार्रवाई से स्थिति हुई विस्फोटक, सुबह ही निर्दोष ग्रामीणों की पुलिस न

रिपोर्ट- छोटन कुमार यादव

गोह, औरंगाबाद, बिहार।

जन अधिकार पार्टी (लोकतांत्रिक) के प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता श्याम सुंदर ने बयान जारी कर गोह थाना क्षेत्र के अकौनी गांव में घटी घटना की निंदा की है।


आखिर वह कौन सी नौबत आ गई कि सदा शांत रहने वाला अकौनी गांव मेडिकल टीम और पुलिस को देखते ही भड़क गया? पुलिस ने लाठियां भांजी तो ग्रामीणों ने ईंट-पत्थर से पुलिस पर हमला किया। दूसरी बार, पुलिस गांव में गई और बेधड़क ग्रामीणों को पीटना शुरू कर दिया। जबकि वरीय अधिकारियों को सूझ-बूझ से काम लेते हुए पहले जो दिल्ली से लड़का आया था, उसके इलाज का इंतजाम करती।

फिर दोषियों पर विधि-सम्मत कार्रवाई करती। लेकिन ऐसा नहीं करते पुलिस ने अपना तानाशाही रवैया दिखलाया है। हम सरकार से पूरे मामले की एसआईटी जांच की मांग करते हैं। दोषी चाहे ग्रामीण हो या फिर पुलिस, चिन्हित कर कार्रवाई किया जाना चाहिये। पूरा गांव दोषी नहीं है और ना ही पूरा पुलिस महकमा दोषी है। साथ ही, अकौनी समेत गोह विधानसभा के नागरिकों से मेरी अपील है कि विश्वव्यापी कोरोना महामारी से निपटने में सहयोगी की भूमिका में काम करें।

#जप #करन #करनसकरनगमगएसवसथयकरमयकटमपरऔरगबदमहमल #गहपलसकमहलओपरअतयचर #रजशरजनउरफ़पपपयदव #जनधकरपरट #गहऔरगबद #गहमसवसथयकरमयपरहमल #कवड19 #शयमसदर #गह

Subscribe to Our Newsletter

  • White Facebook Icon

© 2023 by The Silence Media